ब्राह्मण आ मैथिल ब्राह्मणक संछिप्त इतिहास

लेख - कुमुद मोहन झा, विराटनगर ब्राह्मण परिभाषाः ब्राह्मण हिन्दू वर्ण व्यवस्था के सर्वोच्च वर्ण । यस्क मुनि के निरुक्त अनुसार “बह्म जानाति ब्राह्मणः” अर्थात् ब्रह्म केँ जानयबाला...

संसार केर सर्वोच्च शिखर माउंट एवरेस्ट आ दरभंगा महाराज

ऐतिहासिक महत्व केर जानकारी स्रोत: रवि जंग कार्की, काठमांडू, नेपाल संसार केर सर्वोच्च शिखर सागरमाथा जेकर विश्व परिवेश में माउन्ट एवरेस्ट नाम प्रसिद्ध छैक, जाहि पर...

मिथिला, मैथिली आ मैथिल केर पौराणिक परिचय

लेख - आध्यात्मिक अध्ययनक आधार पर मिथिलाक सम्पूर्ण परिचय - प्रवीण नारायण चौधरी अहो मित्र,   कि अहाँ ओहि मिथिला सँ छी जतय स्वयं जगदम्बा जानकी अवतार लेलनि?...

राहुल सांकृत्यायनक ओ अविस्मरणीय योगदान

३० जुलाई २०२०, मैथिली जिन्दाबाद!! राहुल सांकृत्यायन बहुत रास महत्वपूर्ण अभिलेख (दस्तावेज) अनने छलाह। एकर पान्डुलिपि सब बिहार रिसर्च सोसायटी (पटना) मे संरक्षित अछि। विलक्षण...

दौरमा गामक लोकआस्था आ परम्परा पर आपत्तिजनक टीका-टिप्पणी कियैक?

सांस्कृतिक-पुरातात्विक संपदाक चोर-तस्करक गिरोह मिथिला मे सक्रिय विश्व भरि मे महत्वपूर्ण एन्टिक्स केर चोरी-तस्करीक समाचार सुनिते रही, आब मिथिला मे सेहो विगत किछु वर्ष सँ...

हम्मर गाम चतरा के ब्रह्मस्थानक

मिथिलाक गाम - मिथिलाक धरोहरः चतरा, मधुबनी - जुही कर्ण हम्मर गाम भेल (मधुबनी जिला) चतरा । हम गाम पर करीब 2-3 साल पर 7 -8...

मिथिलाक मूल्यवान् धरोहरः भैरवस्थान – भैरव बाबाक स्थापनाक कथा सहित

धरोहर-परिचय - सोहन कुमार झा मिथिला के धरोहर: भैरव बाबा (भैरव स्थान) हमर गाम समया-महिनाथपुर (जिला मधुबनी) के नजदीक (लगभग 1 KM पस्चिम) म अवस्थित छैथ, वाया-झंझारपुर, जिला-मधुबनी,...

बरहरा गामक भैरव पूजा – मिथिलाक एक महत्वपूर्ण धरोहर

अभियान आलेख - प्रवीण नारायण चौधरी बरहरा गामक भैरव पूजाः मिथिलाक एक धरोहर बरहरा गाम मधुबनी जिला मे पड़ैत अछि। झंझारपुर सँ लौकहा जेबाक रेलवे रूट जे...

घरै सऽ जानकी नवमी मनएबाक लेल अपीलः छोटे महंथ 

घरे सऽ जानकी नवमी मनएबाक लेल अपीलः छोटे महंथ  मनीष कर्ण, जनकपुरधाम। २३ अप्रैल २०२०. मैथिली जिन्दाबाद!! प्रत्येक वर्ष जनकपुरधाममें मनाओल जाएबला जानकी नवमी केर एहि...

पर्यटन लेल अद्भुत स्थल अछि देवही टोलः एक सँ एक निर्माणक अनुपम छवि-छटा बनल...

पर्यटन स्थलक परिचय - विवेक चन्द्र मिश्र, देवही टोल, मधुबनी (साभार लेखकक फेसबुक पर राखल गेल पोस्ट, जहिनाक तहिना) ई थीक हमर गाम के बाबा देवेश्वर नाथ...