यात्रा

आत्मचिन्तन - प्रवीण नारायण चौधरी आउ संग-संग यात्रा करैत छी   किनको मोन पड़ैत अछि जे होशो-हवास मे जीवन मे पहिल यात्रा कतुका कएने रही? खूब जोर दियौक...

जीवनक महत्वपूर्ण दर्शन – चुकिया बैंक केर बचत सँ जीवनक प्रारब्ध भोग धरिक सहज...

२६ जुलाई २०२१ - मैथिली जिन्दाबाद!! चुकिया बैंक   बचत करबाक एक पारम्परिक अधिकोष (बैंक) - घरेलू उपाय 'चुकिया बैंक' बहुतो गोटे परिचिते छी। बाल्यकाल मे बाबा-बाबू,...

अन्वीक्षण – एक मनन योग्य लेख

औझका प्रसाद: अन्वीक्षण (Meditation) हिन्दू धर्माचरणमें उपवास उपासनाके एक मुख्य मार्ग थीक। आइ याने हिन्दू महीनाके माघ मास के कृष्ण चतुर्दशी - शिव चतुर्दशी -...

शिवपूजन विधि – शिवपुराण अनुसार (ब्रह्माजीके शब्दमें)

आध्यात्मः स्वाध्याय सँ प्राप्त अद्भुत शिव पूजन पद्धति शिवपूजनके सर्वोत्तम विधिक वर्णन (अध्याय १३ - संक्षिप्त शिवपुराण - रुद्रसंहिता) ब्रह्माजी कहैत छथि - आब हम पूजाके सर्वोत्तम...

हिन्दू संस्कृतिक स्वरूपः अवतारवाद

मूल लेखकः श्री जयदयाल गोयन्दका अनुवादः प्रवीण नारायण चौधरी अवतारवाद भगवान् श्रीराम, श्रीकृष्ण साक्षात् पूर्णब्रह्म परमात्मा थिकाह, ई विश्वास हिन्दू जातिक लोक मे प्रायः हमेशा सँ चलैत...

कृष्ण-कृष्ण – नाम आ कीर्तनक माहात्म्य (अनिवार्य पठनीय-मननीय)

आध्यात्मिक विचार - प्रवीण नारायण चौधरी श्रीकृष्णनाम-माहात्म्य   (स्वाध्यायक आजुक प्रसाद स्कन्दपुराणक महत्वपूर्ण शिक्षा मे सँ उद्धृत)   श्रीभगवान् विष्णु द्वारा ब्रह्माजी सँ कहल गेल अछि - अगहन मास मे...

मानव जीवन मे तिल केर महत्व – अत्यन्त पठनीय आ मननीय आलेख

स्वाध्याय लेख - प्रवीण नारायण चौधरी (गीताप्रेस सँ प्रकाशित कल्याण विशेषांक - दान महिमा अङ्क सँ संकलित-अनुवादित) तिलदान तिल ब्रह्माजी द्वारा उत्पन्न अछि। ई पितर लोकनिक सर्वश्रेष्ठ खाद्यपदार्थ...

सीता जी संग हनुमान जी मैथिली मे संवाद कयलनिः सन्दर्भ वाल्मीकिरामायण एवं रामायणमर्मज्ञ संत...

लेख - प्रवीण नारायण चौधरी (२०१४ फेसबुक नोट्स मार्फत प्रकाशित) मैथिलीमे मिथिलाक धिया सिया संग मिथिलाक भगिनमान हनुमान केर वार्ता: अशोक वाटिका, लंकामे! एखन भाइ संजय कुमार मिश्र...

अत्यन्त पठनीय-मननीय आलेखः ‘दान-धर्म’ (महर्षि दयानन्द सरस्वतीकृत्)

स्वाध्याय लेख अनुवादः प्रवीण नारायण चौधरी दान-धर्म (ब्रह्मलीन स्वामी श्रीदयानन्दजी सरस्वती, भारतधर्म महामण्डल)   धर्मक तीन प्रधान अंग छैक - यज्ञ, तप आ दान। श्रीगीतोपनिषद् मे कहल गेल अछि...

रामायणक अद्भुत रहस्य – पढिकय कियो भावुक भऽ जायत

स्वाध्याय आलेख - अखिलेश कुमार मिश्र रामायण के सार - अद्भुत रहस्य एक राति के बात अछि। माता कौशल्याक नींद अचानक खुजि गेल। हुनका अप्पन छत पर...