नेपाल सरकार द्वारा मिथिला चित्र आधारित 17 डाक टिकट जारी

११ जनवरी २०२२ । मैथिली जिन्दाबाद!!

मिथिला सेंटर, यूएसए केर अध्यक्ष अमित प्रताप साह जानकारी दैत हर्ष प्रकट कयलथि अछि जे नेपाल सरकार द्वारा मिथिला चित्रकला मे सतत विकास लक्ष्य (Sustainable Development Growth) प्राप्त करबाक लेल नेपाल मे पोस्टल स्टाम्प जारी कयल गेल अछि। ओ कहलनि अछि जे नव साल 2022 केर शुरुआत मे ई कहैत खुशी भऽ रहल अछि जे 2030 तक सतत विकास लक्ष्य (एसडीजी) केँ प्राप्त करबाक प्रयास लेल मिथिला पेंटिंग केँ व्यापक मान्यता दैत नेपाल सरकार पहिल बेर 17 गोट डाक टिकट जारी कयलक अछि। 29 दिसंबर 2021 केँ डाक टिकट और डाक टिकट प्रबंधन केर इतिहास मे मिथिला चित्रकला पर आधारित डाक टिकट जारी करब बहुत सुखद समाचार थिक।

श्री साह द्वारा जारी कयल गेल लिखित ज्ञापन पत्र मे कहल गेल अछि जे संयुक्त राष्ट्र मे नेपाल केर स्थायी मिशन के सहयोग सँ, मिथिला सेंटर, यूएसए द्वारा पहिल बेर मिथिला महोत्सव यूएसए केर आयोजन कयल गेल और एहि चित्र सब केँ शुरुए मे थीम केर संग प्रदर्शित कयल गेल छल। “एसडीजी लेल कला: मिथिला विरासत प्रदर्शनी” 8 सँ 12 अप्रैल 2019 धरि पांच दिनक लेल न्यूयॉर्क, यूएसए मे संयुक्त राष्ट्रक मुख्यालय मे एकर प्रदर्शन कयल गेल छल। ई 2018 मे जनकपुरधामक प्रसिद्ध मिथिला महिला कलाकार द्वारा एक सहयोगात्मक प्रयास केर तहत बनायल गेल छल। नेपाल मे संयुक्त राष्ट्र प्रणाली और जनकपुर महिला विकास केंद्र केर संयुक्त प्रयास सँ ई चित्र सब बनल छल। मिथिला कला और संस्कृति केर संरक्षण, संवर्धन और प्रवर्धन लेल समर्पित मिथिला सेंटर, एहि तरहें, मिथिला कला मे संभावित योगदान केर मान्यताक लेल नेपाल सरकार और संयुक्त राष्ट्र केँ अमूल्य समर्थन लेल अपना दिश सँ आभार व्यक्त करैत अछि और एसडीजी हासिल करबाक लेल शुभकामना सेहो व्यक्त करैत अछि, श्री साह कहने छथि। 

“हम संयुक्त राष्ट्र मे नेपालक स्थायी मिशन, नेपालक महावाणिज्य दूतावास, न्यूयॉर्क द्वारा मिथिला सेंटर/मिथिला महोत्सव केर सहयोग सँ मिथिला महोत्सव यूएसए और ऊपर उल्लेखित प्रदर्शनीक आयोजन करय मे निभायल गेल भूमिका सराहनीय होयबाक बात पर सेहो ध्यान आकर्षित करय चाहब। नेपालक एहि 17 एसडीजी मिथिला चित्र केँ संयुक्त राष्ट्र केर सेवानिवृत्त पदाधिकारी श्री नवल यादव द्वारा काठमांडू सँ न्यूयॉर्क तक प्रदर्शनीक लेल पहुँचायल गेल और प्रदर्शनी के बाद संयुक्त राष्ट्र सँ नेपाल सेहो वापस पहुँचायल गेल। हम एहि संबंध मे विदेश मंत्रालय, नेपाल सरकार केँ, सीमा शुल्क विभाग केँ और न्यूयॉर्क मे नेपाल के महावाणिज्य दूतावास सँ प्राप्त समर्थन केर वास्ते सेहो आभार व्यक्त करैत छी।” – श्री साह केर वक्तव्य मे कहल गेल अछि। 

मिथिला कला और महिला सशक्तिकरण केँ बढ़ावा देबाक उद्देश्य सँ महिला कलाकार लोकनिक पहिचान और प्रशिक्षण सहित हुनका सभक अमूल्य सहयोग-योगदान लेल जनकपुर महिला विकास केंद्र (जेडब्ल्यूडीसी) केर संस्थापक सुश्री क्लेयर बर्कर्ट (यूएसए) के सेहो आभार व्यक्त कयल गेल अछि। सुश्री बर्कर्ट द्वारा 1991 मे जेडब्ल्यूडीसी केर स्थापनाक बाद सँ तीन दशक धरि निरंतर समर्थन और मार्गदर्शन प्रदान कयल गेल अछि। एसडीजी केर संबंध मे ई 17 चित्रक पहिचान मे सेहो हुनकर योगदान केर सराहना कयलनि अछि। अन्त मे, ओहि समस्त कलाकार लोकनि केँ हार्दिक बधाई दैत साह कहलनि अछि जे जिनकर रचनात्मक और कलात्मक कृति केँ संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय मे आयोजित प्रदर्शनीक लेल चुनल गेल छल आ आब नेपाल सरकार केर टिकट केर रूप मे जारी कयल गेल अछि, यैह आगू आर दूरी तय करत। ओ कहलनि जे हमारा दृढ़ विश्वास अछि कि एहि चित्र सब केँ आब विश्व केर डाक टिकट संग्रह केर रिकॉर्ड रूप मे सेहो प्रलेखित कयल गेल अछि, जे दुनिया भरि मे मिथिला कला, चित्रकला और संस्कृति केँ बढ़ावा दय मे मदति करत। हम एहि लेल मिथिला संस्कृति सँ जुड़ल सब केँ बधाई दियए चाहब, भले ओ नेपाल या विदेश मे अपन अधिवास के बावजूद हजारों साल पहिनेक एहि महान सभ्यता और संस्कृति केँ जगजियार कएने छथि।
हम मिथिला सेंटर, यूएसए केर सब शुभेच्छु लोकनि केँ नव साल 2022 केर बहुत-बहुत शुभकामना दैत छी आर संगहि आबयवला दिन मे संग-संग आर बेसी काज करबाक आशा सेहो करैत छी।