शौर्य सिमेन्ट मिथिला लोक चित्रकला प्रतियोगिता २०८० केर दोसर चरण सँ ७५ गोट सहभागी चयन भेल

सन्तोष लाल दास, जनकपुरधाम। १० दिसम्बर २०२३ । मैथिली जिन्दाबाद!!

शौर्य सिमेन्ट इन्डस्ट्रिज लिमिटेड (नेपाल) – शौर्य सिमेन्ट केर निर्माता कम्पनी द्वारा कारपोरेट सामाजिक दायित्व (सीएसआर) केर जिम्मेदारी केँ देशक मौलिक कला आ संस्कृति संग बहुभाषिक-बहुसांस्कृतिक नेपाली पहिचान मे मैथिल पहिचान केँ संरक्षण, संवर्धन आ प्रवर्धन निमित्त आयोजित कार्यक्रम “शौर्य सिमेन्ट मिथिला लोक चित्रकला प्रतियोगिता २०८०” केर दोसर चरणक समापन भेल अछि। काल्हि ९ दिसम्बर २०२३ केँ शौर्य सिमेन्ट कम्पनीक सभागार मे ई आयोजन कयल गेल जाहि मे प्रथम चरण केर १५० सहभागी मिथिला चित्रकला मे निपुण कलाकार लोकनिक बीच सँ ७५ गोटेक चयन कयल गेल अछि। पुनः दोसर चरण मे ७५ मे सँ १५ गोटेक चयन तेसर आ अन्तिम चरण लेल कयल जेबाक अछि। तेसर चरणक आयोजन आगामी पौष २ सँ ७ गते (१८ सँ २३ दिसम्बर २०२३) केँ कयल जायत। विदित हो जे एहि मे प्रथम भेनिहार केँ ७५ हजार, दोसर भेनिहार केँ ५० हजार आ तेसर केँ २५ हजार सहित कुल १२ गोटा केँ ५ हजार सान्त्वना पुरस्कार देल जायत। एहि प्रतियोगिताक निर्णायक मिथिला आर्ट गैलरी काठमाण्डूक संचालक श्यामसुन्दर यादव तथा सुनयना आर्ट गैलरीक संचालिका सुनयना ठाकुर केँ बनायल गेल छन्हि। एहि आयोजनक सम्पूर्ण सहकार्य भूमिका मे विजयलक्ष्मी मीडिया फाउन्डेसन, जनकपुर केर भ’ रहल अछि।

प्रतियोगिताक माध्यम सँ नेपालक महत्वपूर्ण लोककला ‘मिथिला चित्रकला’ केँ विश्वस्तरीय प्रवर्धनक मूल उद्देश्य संग ई आयोजन कयल जेबाक जनतब संयोजक सन्तोष लाल दास कहलनि। एकर मूलनारा “मिथिला चित्रकला मधेशक शान।
एहि केँ उजागर करब शौर्यक अभियान॥” राखल गेल अछि। ई प्रतियोगिता मे मधेश प्रदेशक महिला चित्रकार केँ मात्र स्थान देल जेबाक नियम बनाओल गेल अछि। चित्रकलाक विषय मे ऐतिहासिक रामायणकालीन जनजीवन, वर्तमान समाजक समस्या केँ परिलक्षित करयवला चित्रकला, पर्यावरण/वातावरण संरक्षण, नारी सशक्तिकरण, मिथिलाक लोकपर्व पर आधारित विभिन्न चित्रकलाक मूल्यांकन करैत पुरस्कार वितरण करबाक नियम घोषित कयल गेल अछि। शौर्य सिमेन्ट केर ब्रान्ड मैनेजर अनुज कुमार महत्त केर विशेष पहल पर प्रदेशक आमजन केर बीच आमजनहि केर सरोकार आ राष्ट्रीयताक पृष्ठपोषण करयवला ई महत्वपूर्ण आयोजन राखल गेल अछि। नेपालक कारपोरेट जगत लेल निस्सन्देह ई सकारात्मक सन्देश अछि जे व्यवसायिक विज्ञापन केवल टेलिविजन आ बड़का-बड़का होर्डिंग बोर्ड केर माध्यम सँ नहि अपितु लोकक बीच लोकसरोकार सँ जुड़ल विषय-वस्तुक हित मे सेहो विभिन्न प्रतियोगिता आ लोकसम्बन्ध-लोकजुड़ाव केँ स्थापित करैत कयल जा सकैत अछि। शौर्य सिमेन्ट नेपालक चर्चित ब्रान्ड थिक आ अपन गुणस्तर संग विज्ञापनक एहि सीएसआर शैली लेल सेहो जन-जन मे लोकप्रियता हासिल कय रहल अछि।