सीतामढ़ीसँ सिनेमाक रजत पटल धरि : अनिल मिश्रा

मनोरंजन डेस्क,‍ २४ मार्च २०१९, मैथिली जिन्दाबाद!!

नमगर आ छरहर कदकाठी, सौम्य, सरल आ गंभीर व्यक्तित्व आ एखन धरि सभसँ बेसी मैथिली फिल्म आ सिरियलमे मुख्य भूमिकाकेँ जीवन्त केनिहार अभिनेताक नाम थीक अनिल मिश्रा ।

माँ जानकीक प्राकट्यभूमि सीतामढ़ी जिलाक यदुपट्टी गामक रहनिहार अनिल आरम्भहि कालमे अभिनेता बनबाक सपना देखि लेने छलाह आ कॉलेजक पढ़ाइ क्रममे रंगमंच सँ जुड़लाह आ नाटक सभमे अभिनय प्रारम्भ केलनि । पटनाक प्रसिद्ध नाट्य संस्था भंगिमासँ जुड़लाक बाद हिनक मैथिली रंगयात्रा आरम्भ भेलनि जे एखन नई दिल्लीक मैलोरंग आ मिथिलांगन धरि जारी अछि । लोरिकायन, अग्नि पथक सामा, राजा सलहेस, मुक्ति पर्व, ऑरिजिनल काम, पैघ नटकिया के, जल डमरू बाजे सहित दर्जनो मैथिली नाटक मे विभिन्न धारक चरित्रकेँ जीवन्त केनिहार अनिल राष्ट्रीय स्तर पर कैकटा हिन्दी नाटकमे सेहो अभिनयक छाप छोड़ने छथि । मधुबनी इप्टाक कैकटा नाटक निर्देशनक अनुभवी छथिहे ।

सुदर्शन व्यक्तित्वक स्वामी अनिल छोटका परदा पर ब्रेक भेटलनि संजय खान निर्देशित पौराणिक धारावाहिक “जय महाभारत” मे, जाहिमे ओ श्रीदत्त केर भूमिका मे छलाह । फेर जिमी और जूते, भाग्य ना बाँचे कोय, चाचा चौधरी आदि धारावाहिक माध्यमे छोटका परदाक परिचित चेहरा बनलाह ।

मैथिली मातृभाषा दिस आकर्षण आरम्भे सँ छलनि आ पहिल बेर अजय यश निर्मित मैथिली फिल्म गरीबक बेटी मे खलनायक रूपमे छाप छोड़लनि आ सभ पर भारी पड़लाह । तुरत्ते सोमनाथ गुप्त निर्देशित मेगा मैथिली सिरीयल नयन न तिरपित भेल मे चयन भेलनि जकरा बाद ई मैथिलीक हीरो रूपमे चर्चित भ गेलाह ।

नायक रूपमे अनूप कुमार निर्देशित सिन्दूरदान, रमेश रंजनक एक चुटकी सिन्दूर हिनकर कैरियरक महत्वपूर्ण फिल्म अछि । पुनः छूटत नइं प्रेमक रंग, चट मंगनी पट भेल वियाह, डमरू उस्ताद मे मुख्य नायकक चरित्रकेँ जीवन्त केलनि । भोजपुरी सँ अनेको ऑफर एलाक बादो ई अश्लीलताक कारण नहि गेलाह, मात्र एक गोट पारिवारिक फिल्म शादी बियाह मे अभिनय केलनि ।

दूरदर्शन पर प्रसारित सिरियल भवेश नंदन निर्देशित एस एन झा के गजबे दुनियाँ आ बालकृष्ण झा निर्देशित स्वर्ग नइं बिनु मुइने केर मुख्य भूमिका माध्यमे अनिल मिश्रा मिथिलाक घर घरमे चिन्हल जाय लगलाह ।

एहि सँ पूर्व सौभाग्य मिथिला पर जंगला मंगला, बिन्देसरा बी ए पास माध्यमे धमाल मचौनिहार सीतामढ़ीक ई अभिनेता हालहि वीर लोरिक पर केद्रित लघु फिल्म किसलय कृष्ण निर्देशित इतिहास : द प्राइड ऑफ मिथिला मे केन्दीय भूमिकाकेँ सार्थकता प्रदान केने छथि । आब कहू मोन केहेन करैये, हिन्दी टेलीफिल्म सशक्त, हिन्दी मूवी फेरस आदि मे हिनक काज केँ सराहना भेटल छनि ।

वर्ष २०१९ मे हिनक दू गोट मैथिली फिल्म क्रमशः बबितिया आ जिला बेगूसराय निर्माणाधीन छनि । मैथिली जिन्दाबाद परिवारक शुभकामना मिथिलाक एहि हीरो केँ ।