मिरानिसे केर राष्ट्रीय अधिवेशन नवम्बर ८-९ केँ दरभंगा मे

दरभंगा, जून १४, २०१६. मैथिली जिन्दाबाद!!
मिथिला राज्य आन्दोलन लेल तीन वर्ग केर आन्दोलनीक आवश्यकता अछिः रंगनाथ ठाकुर
 
rangnath thakurआगामी नवम्बर ८ एवं ९ तारीख केँ दरभंगा मे मिथिला राज्य निर्माण सेनाक राष्ट्रीय अधिवेशनक आयोजन सुनिश्चित कैल गेल अछि। एहि अधिवेशन लेल वरिष्ठ समाजसेवी एवं अभियानी रंगनाथ ठाकुर केँ जिम्मेवारी देबाक प्रस्ताव मिरानिसे केर राष्ट्रीय महासचिव राजेश झा रखलनि जेकरा चिन्तन शिविर मे सहभागी दर्जनों प्रतिनिधि लोकनि ध्वनिमत सँ स्वीकार करैत पारित कएलनि।
 
रंगनाथ ठाकुर अपना पर कैल गेल विश्वास प्रति आभार प्रकट करैत कहलनि जे आबयवला समय मे सेनाक शाखा आ संगठन केर विस्तार लेल गहन अभियान चलायब। संगहि, ओ अपन अनुभवी दृष्टिकोण रखैत सेना मे तीन भिन्न वर्गक निर्माण पर सेहो जोर देलनि। पहिल वर्ग जे जमीन पर रहिकय अभियान संचालन करत, दोसर वर्ग जे आर्थिक पक्ष पर संयोजन केर कार्य करत आर तेसर जे वैचारिक क्रान्ति लेल अपन सुझाव व सल्लाह दैत आगामी समयक दिशा ओ दशा निर्धारित करत।
 
विदित हो जे मिथिलाक आन्दोलन मे आइ धरि प्रखरता नहि एबाक कमजोरी पर सेहो श्री ठाकुर द्वारा कठोर टिप्पणी कैल गेल छल। एहि कमजोरीक एक्के टा जबाब अछि जे राज्य केर अर्थ सँ आम जनता परिचित अछिये नहि, जे कियो परिचित अछि ताहि मे मात्र गोटेक एकजातीय अगुआ केर सक्रियता सँ आम जनमानस मे एकर अर्थ आरो रहस्यमयी बनि जाएत छैक। जखन कि मिथिला राज्य क्षत्रीय कुल केर जनक वंशीय राजाक रहल, बाद मे सेहो एतय सेनवंश, देववंश, आदिक राज्य रहल, वर्तमान भारतीय लोकतंत्र मे पिछड़ा आ दलितवर्गक संग मुस्लिम केर संख्यावल अधिक अछि। स्वाभाविके तौर पर समावेशी सहभागिताक सरकार बनला सँ अल्पसंख्यक वर्गक नेतृत्व हाशिया पर रहब तय अछि। तैयो लोक अपन मिथिला लेल एकजुटता मे कमी मात्र अन्जान भय व शंका मे करैत अछि। मिथिला राज्य निर्माण सेना एहि कमजोरीक समाधान लेल चौतर्फा जागरण कार्यक्रम करत आ आब बिहारक मनमानीपूर्ण उपेक्षा सँ ऊबार पेबाक लेल मिथिला राज्य निर्माणक प्रक्रिया तेज होयत से विश्वास अछि। जरुरत पड़ला पर क्षेत्रक आर्थिक नाकाबन्दी तक करय सँ पाछू नहि हँटब, श्री ठाकुर अपन प्रतिक्रिया दैत कहलनि।
 
मिरानिसे केर योजना अनुरूप आबयवला ३-४ महीना मे कम सँ ५-६ जिला केँ टार्गेट मे राखि संगठन विस्तार केर कार्य कैल जायत। पुनः राष्ट्रीय अधिवेशन आ तेकर उपरान्त बाकी सब जिला मे संगठन विस्तारक कार्य चरणबद्ध ढंग सँ कैल जेबाक अछि। राष्ट्रीय महासचिव राजेश झा ई जानकारी करौलनि। आगामी अधिवेशन लेल जिम्मेवार सहसंयोजक मे मुजफ्फरपुर सँ संजय मिश्रा, सीतामढी सँ डा. देवेश कुमार, सहरसा सँ सुमन खाँ समाज केर नियुक्ति उम्मीद बढा रहल अछि। संचालन समिति मे २६ सँ १०० नाम पहुँचेबाक लेल सेहो सघन अभियान चलायल जा रहल अछि। आब ऐगला रवि यानि २१ जून दरभंगा मे संयोजन समितिक बैसार होयत। कार्यालय खोलबाक तथा संगठन विस्तार लेल विभिन्न जिलाक चुनावक संग विस्तृत कार्ययोजना पर विमर्श कैल जायत, श्री झा मैथिली जिन्दाबाद केँ जानकारी करौलनि।