आतंकवाद केर खतरा मानव अस्तित्व लेल गम्भीर – कि थिक ‘आमूलीकरण’

मंथन
– प्रवीण नारायण चौधरी
दुनिया भरि मे निर्दोष मानवक हत्या होयब – एक जघन्य अपराध थिक। एकरा आतंकवाद कहल जा रहलैक अछि। आतंकवाद केर जड़ि मे ‘आमूलीकरण’ शब्द केर प्रयोग भेलैक आर लगभग प्रत्येक सक्षम देश अपन सुरक्षा तंत्र मे एहि गम्भीर विषय दिश काज करब आरम्भ कय देलक अछि। आउ, आइ हमहुँ सब बुझबाक प्रयत्न करी जे आखिर कि थिकैक ई आमूलीकरण।
कि थिकैक ई आमूलीकरण?
 
आमूलीकरण केर कोनो एक गोट सुनिश्चित परिभाषा कतहु पढाई मे नहि एलैक अछि, लेकिन विगत कइएको दशक मे दुनिया मे बढैत उग्रवाद, चरमपंथ आ धार्मिक कट्टरता सँ जिहाद आदिक नाम पर आतंकवाद सँ त्रस्त मानवीय संसारक प्रबुद्ध मानव आ राज्य संचालक – शासक-प्रशासक तथा विधि वेत्ता एहि विन्दु पर अपन-अपन मत राखि रहल अछि।
 
विकीपीडिया पर उपलब्ध जानकारी अनुसार –
 
आमूलीकरण (अंग्रेज़ी: Radicalization or radicalisation) एक प्रक्रिया छैक, जाहि सँ कोनो व्यक्ति या समूह बढ़ैत रहल ओहि उग्र राजनीतिक, सामजिक या धार्मिक आदर्श और महत्त्वाकांक्षा केँ ग्रहण करय लगैत अछि, जे यथास्थिति केँ नकारैत अछि या नष्ट करैते अछि[1] अथवा समकालीन विचार सभ केँ तथा पसीन करबाक (चयन केर) आज़ादी केर अभिव्यक्ति सभ केँ नष्ट करैत अछि।
 
आमूलीकरण केर परिणाम सँ समाजक विचार आकार पबैत अछि; उदाहरणक लेल, समाज मे प्रगतिशील परिवर्तन केर विरुद्ध एक व्यापक सामाजिक आम-सहमति सँ आमूलीकरण केर उदय भऽ सकैत य, या फेर समाज मे परिवर्तन केर एक पैघ इच्छा सँ एकर उदय भऽ सकैत अछि। आमूलीकरण दुनू हिंसक और अहिंसक भऽ सकैत य, जखन कि बेसी अकादमिक साहित्य केर ध्यान, हिंसक उग्रवाद मे आमूलीकरण (अंग्रेज़ी: Radicalization into Violent Extremism; संक्षेपाक्षरित रूप सँ “RVE”) पर केन्द्रित अछि।[2] [3]
 
परिभाषा
 
सरकार केर एकेडेमिया मे, आमूलीकरण केर कोनो विश्वस्वीकृत परिभाषा नहि अछि। ताहि सँ, कोनो एक परिभाषा एतय प्रस्तुत नहि य। आमूलीकरण केर परिभाषा दैत समय, एक मुद्दा ई निर्धारित करबाक प्रसंग केर महत्त्व वला अछि जेकरा आमूलीकरण केर रूप मे देखल जाइत अछि। तेँ, आमूलीकरण केर विभिन्न लोकक लेल विभिन्न अर्थ भऽ सकैत छैक। [4] विभिन्न सरकार द्वारा प्रयुक्त परिभाषा सभक एक सूची निचाँ प्रस्तुत अछि।
 
संयुक्त राज्य –
 
एनसीटीसी – यूएस नेशनल काउंटरटेररिज़्म सेण्टर केर अनुसार, जे परिवेदना (शिकायत वा पीड़ा) आमूलीकरण केर पुष्टि करैत अछि, ओ विविध अछि आर कतेको स्थान व समूह मे व्यापक रूप सँ पसरल अछि। अन्तर्राष्ट्रीय घटना सँ कुण्ठाक संग, स्थानीय स्तर केर निजी चिन्ता द्वारा, आमूलीकरण बेर-बेर संचालित होइत अछि।[5]
 
संयुक्त राजशाही –
 
यूके होम ऑफ़िस, जे एमआय5 केर पैतृक संस्था थिक, आमूलीकरण केँ निम्न प्रकारे परिभाषित करैत अछि – “ओ प्रक्रिया, जाहि सँ लोक आतंकवाद और हिंसक उग्रवाद केर समर्थन करय लगैत अछि, आर किछु मामिला मे, फेर आतंकवादी समूह सँ जुड़ि जाइत अछि।”
 
आमूलीकरण केर प्रक्रिया
 
गलत बुझाई – कोनो समाज वा समुदाय मे शंका आ आशंका सँ एक तरहक सन्देह जे भीतरे-भीतर लोकक मन-मस्तिष्क मे घर बना लैछ आर परिणामस्वरूप ओकर प्रतिकार करबाक लेल चरमपंथ विचारधारा वा कट्टरता बढि जाइत अछि।
 
ग़रीबी – आमूलीकरण और गरीबी केर बीच कोनो सम्बन्ध मिथ्या थिक। कतेको आतंकवादी मध्यम वर्ग केर पृष्ठभूमि सँ अबैछ, आर ओकरा पास विश्वविद्यालय-स्तरीय शिक्षण होइत छैक, ख़ासकय, तकनीकी विज्ञान और अभियांत्रिकी में।[6] ग़रीबी और सैन्य आमूलीकरण केर बीच कोनो सांख्यिकीय सम्बन्ध नहि छैक।[7] जेना कि ऊपर रेखांकित कयल गेल य, ग़रीबी और डिसएडवांटेज आमूल प्रवृत्ति वला कोनो पारस्परिक सहायता संगठन मे भाग लेबाक लेल प्रोत्साहित कय सकैत छैक, मुदा एकर मतलब ई नहि जे विशेष रूप सँ ग़रीबी आमूलीकरण केर लेल ज़िम्मेदार अछि।
 
सन्दर्भ
1. Wilner and Dubouloz, “Homegrown Terrorism and Transformative Learning: An Interdisciplinary Approach to Understanding Radicalization,” Global Change, Peace, and Security 22:1 (2010). 38
 
2. Borum, Randy. Radicalization into Violent Extremism I: A Review of Social Science Theories. Journal of Strategic Security. Vol. 4 Issue 4. (2011) pp. 7-36
 
3. Schmid, A. P. “Radicalisation, De-Radicalisation, Counter-Radicalisation: A Conceptual Discussion and Literature Review”. The International Centre for Counter-Terrorism – The Hague (ICCT).
 
4. Schmid, A. P. “Radicalisation, De-Radicalisation, Counter-Radicalisation: A Conceptual Discussion and Literature Review”. The International Centre for Counter-Terrorism – The Hague (ICCT).
 
5. “Radicalization: Myth and Reality”. U.S. National Counterterrorism Center. अभिगमन तिथि 2010-01-17.
 
6. “Exploding misconceptions”. The Economist. 16 December 2010. अभिगमन तिथि 7 October 2015.
7. Baylouni, A.M. Emotion, Poverty, or Politics? Misconceptions About Radical Islamist Movements. Connections III, No. 1, Vol. 4. pp. 41-47 Available at: http://faculty.nps.edu/ambaylou/baylouny%20emotions%20poverty%20politics.PDF
 
हमर नोटः
 
उपरोक्त देल गेल स्रोत विकिपीडिया पर मात्र अध्ययन कयला सँ ई विषय बहुत बेसी बुझय मे नहि आबि सकल अछि। एकर सन्दर्भ सामग्री आ विभिन्न उदाहरण सभक अध्ययन सँ जानकारी व्यापकता पाओत। तथापि ई विषय एखन एहि लेल राखल अछि जे हाल मे घटित २ गोट आतंकवादी घटना हमरा सहित बहुतो लोकक मोन-मस्तिष्क मे बेर-बेर सवाल उठा रहल अछि। न्युजीलैन्ड मे मस्जिद मे पहुँचि नमाज पढि रहल लोक पर अन्धाधुन्ध फायरिंग कय दर्जनों निर्दोष लोकक हत्या करब कतेक बर्बर छल से नहि बिसैरि पाबि रहल छी। एम्हर एक बर्बर हमलाक टीस समाप्त भेल नहि ताबे धरि दोसर दिश आरो क्रूरतापूर्वक चर्च आ होटल मे ईस्टर सन्डे मना रहल क्रिश्चियन धर्मावलम्बी पर आईईडी जेहेन खतरना विस्फोटक केर प्रयोग करैत आक्रमण कयल जाइछ जाहि मे कथित तौर पर एखन धरि ४०० सँ ऊपर निर्दोष लोक, ताहि मे ४५ टा बच्चा सेहो शामिल अछि… तेकरा मारि देल जाइत अछि। १००० सँ बेसी लोक घायल अछि। ओहि मे कतेको जीबिते मृत्यु झेलि रहल होयत। एहेन बर्बर हमला केँ सिर्फ आतंकवादी हमला टा मानिकय चलब सेहो संभव नहि लागि रहल अछि हमरा। एहि लेल आइ ई विषय ‘आमूलीकरण’ अपन पाठक वर्गक सोझाँ आनलहुँ, एहि पर मंथन करय जाउ। हरेक समाज मे कट्टरता कोनो न कोनो रूप मे आबि रहल अछि। ई जनसंघर्ष केर अग्रिम सूचना थिक। विज्ञान मे पढने रही, जनसंख्या विस्फोट, जनसंघर्ष, लोक-लोक केँ मारत, खायत, आदि। ई महाप्रलयक प्रारम्भिक भाग त नहि? चिन्तन ताहि दिशा मे सेहो हो। मानव हित लेल ई सब चिन्तन काजक होयत।
 
हरिः हरः!!