मिथिलाक आर्थिक प्रगति लेल मंथन सभा गुजरात केर गांधीनगर मे

मिथिला मिरर नेशनल मीडिया कन्क्लेव – गांधीनगर गुजरात मे आइ

आइ ३० सितम्बर गांधीनगर – अहमदाबाद – गुजरात मे आयोजित भऽ रहल अछि एक कन्क्लेव (विशेष सभा), जाहि मे मिथिलाक अति विशिष्ट विद्वान् ओ विचारक लोकनिक जुटान भऽ रहल अछि। मिथिला मिरर केर समूह संपादक ललित नारायण झा तथा वरिष्ठ संचारकर्मी मनोज पाठक द्वारा संयुक्तरूप सँ संचालित एहि कन्क्लेव मे मिथिलाक आर्थिक प्रगति सँ जुड़ल विभिन्न विन्दु पर विद्वान् लोकनि अपन विचार रखताह। सोशल मीडिया – फेसबुक सँ भेटि रहल जानकारी मुताबिक बिहार योजना परिषदक सदस्य संजय झा एहि कन्क्लेव केर मुख्य अतिथि छथि। बुझल होयत जे श्री संजय झा केर छवि एक विकासपुरुष केर रहल छन्हि तथा मुख्यमंत्री बिहार नीतीश कुमार केर समीप-पात्र सेहो छथि। एहि वर्ष २०१८ केर तिला संक्राति मे तिल-चाउर खाइत एकटा कठोर संकल्प लेलनि जे मिथिला लेल डेवलपमेन्ट बोर्ड गठनक कार्य करब। किछु समय लेल एहि विषय पर काफी चर्चा-परिचर्चा वर्षक आरम्भहि मे भेल छल। मिथिलावाद केर प्रखर समर्थक युवा नेता राजेश झा द्वारा हिनकर समर्थन आ सोचक प्रशंसा समस्त मिथिलावादीक लेल एकटा नव सन्देश देबाक कार्य कएने रहय। आर, आब आजुक ऐतिहासिक ‘कन्क्लेव’ मे कि सब ठोस आधार, कार्यनीति, दृष्टिकोण, आदि सोझाँ अबैत अछि तेकर प्रतीक्षा करी हमरा लोकनि।

मिथिलावाद केर हितचिन्तक राजेश झा हिन्दी मे पूरा देशवासी – हिन्दीभाषाभाषी केँ बुझबैत अपडेट कयलनि अछि ओ जहिनाक तहिना राखि रहल छीः

“अपने लोगों के साथ, अपने मिथिला के सर्वांगीण विकास पर वृहत चर्चा करने का सौभाग्य ‘मिथिला मिरर’ के सौजन्य से मिल रहा है।

जबतक मिथिला में आर्थिक विकास और नए रोजगार के अवसर उपलब्ध नहीं होंगे, भारत भी आर्थिक महाशक्ति बनने की यात्रा को पूरा करने में असमर्थ होगा।

संजय भाई में असीमित क्षमता देखता हूँ। मिथिला से संबंधित विषयों पर उनकी सक्षम उपस्थिति अनगिनत नए संभावनाओं को जन्म देती है।

इन संभावनाओं को संभव करने में अपना भी सार्थक योगदान हो इसी आशा से आज इस कार्यक्रम में सहभागी बनने को उत्सुक हूँ। मैया जानकी का आशीष सदैव मार्ग प्रशस्त करता है।”

हिनक नव-संभावना, आशा, विश्वास आ निज सहभागिता – ओहि कन्क्लेव मे स्वयं उपस्थिति सँ आरो सुदृढ भऽ रहल अछि। बहुत जल्द एकटा ठोस प्रारूप सोझाँ आओत, से अवश्यम्भावी अछि।

एहि कन्क्लेव मे श्री पी के झा समान दूरदर्शी भारतीय प्रशासनिक सेवा अधिकारी जे वर्तमान समय मे एनएसआइसी (नेशनल स्माल इन्डस्ट्रीज कारपोरेशन लिमिटेड) केर सेन्ट्रल जोन केर प्रमुखक पद पर सेहो कार्यरत छथि हुनक उपस्थिति एक मूल प्रेरक-परिकल्पक-आयोजकक रूप मे मिथिलाक्षेत्र मे औद्योगिक विकास लेल, जन-जन केँ स्वरोजगारिता सँ जोड़य लेल, राज्य आ वित्तीय संस्था सँ सहज ऋण उपलब्ध करबैत छोट-छोट स्तर पर उद्योग लगेबाक दिशा मे कार्य करबाक लेल आर ताहि मे मिथिलाक सक्षम नेतृत्व सभक एकजुट प्रयास आ कार्य करबाक ऐक्यता निर्माण लेल ई आयोजन एकटा दूरदर्शी आ ऐतिहासिक थिक, ई कहय मे कोनो दुइ मत नहि।

मिथिलाक्षेत्रक एक सँ बढिकय एक नेशनल-इन्टरनेशनल एन्टिटीज लोकनिक सहभागिता आयोजनक गरिमा केँ आरो चारि चान लगा रहल अछि। अहमदाबाद मे सक्रिय मैथिल समाज केर दूरदर्शिताक मुक्तकंठ सँ प्रशंसा बहुत पहिनहि सँ होइत आबि रहल अछि। आर, गुजरात राज्य केर विकासक मोडेल केर बात तऽ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदीक विगत संघीय सांसदीय निर्वाचनक समय सँ सर्वविदिते अछि। ताहि राज्य मे प्रवासी मैथिल केर सोच सेहो एतेक विकसित आ दूरदृष्टिसंपन्न होयत ईहो आह्लादित करैत अछि। पूर्वहु मे अपने लोकनि कय टा महत्वपूर्ण बैसार, विचार-गोष्ठी आदि कयलहुँ। हँ, तखन गोष्ठी सँ आगू नीति अनुसार विकासक अवधारणा पर निवेशक क्षेत्र मे कोन ठोस कार्य एखन धरि कोनो मैथिल समाज नहि बना पेला अछि, लेकिन ईहो कम नहि जे प्रवासक स्थल मे ओ अपनहि केँ देशक एक रत्न बनौलनि, हमरा लोकनि एतबे मे बहुत प्रसन्न होइ। लेकिन आजुक कन्क्लेव किछु ठोस करत, ई हम बेर-बेर अपना आप सँ पुछियो रहल छी, बौंसियो रहल छी, आर कनेक दूर धरि देखला पर किछु त पक्का होयत से देखियो रहल छी।

डा. सन्दीप झा – अनमोल हीरा आ मिथिलाक बेटा कीर्ति बना चुकल छथि। प्रान्त केँ एकटा अनुपम उपहार – प्राइवेट युनिवर्सिटी बनाकय दय चुकल छथि। आर आब मिथिलाक पूँजी बाहर कतहु पलायन हुअय, तेकरा रोकबाक लेल सेहो निरन्तर गुणस्तर आ फेकल्टीज सेहो सालहि-साल बढौने जा रहल छथि। तखन तऽ लोकक अपन मानसिकता केँ ओ बदलि देथिन आर लोक मे बाहरी राज्य जाय उच्च शिक्षा ग्रहण करबाक प्रवृत्ति खत्म भऽ जेतैक…. एहि पर पुनः हमर सर्वेक्षण आ अध्ययन एखन पूरा सम्बल नहि बनि पाबि रहल अछि। लेकिन ‘कारज धीरे होतु हैं काहे होत अधीर’ – ई सम्बल हमरा सभक लेल त अछिये। बहुतो गरीब आ मध्यमवर्गीय छात्रक लेल सिजौल कैम्पस अमेरिकाक होवार्ड युनिवर्सिटी बनतैक। आर सेहो डा. झा एहि कन्क्लेव मे पहुँचि चुकल अछि। एयरपोर्ट पर भव्य स्वागत कयल गेलनि अछि।

आरो कतेको जानल-मानल चेहरा सब आजुक कन्क्लेव मे पहुँचि रहला अछि। ललितजीक फेसबुक वाल सँ शिवानन्द झा, ब्रजेश कुमार झा, एमके दास, डा. रामनाथ प्रसाद, सुनील शुक्ल, अमिताभ झा, रंजना झा, मोहन झा, आर एन झा, अजय झा, संजय झा – सभक पहिचान सरकारी अथवा निजी क्षेत्र मे अति-अति-विलक्षण आ उच्च स्थान रखैत अछि। एहि कन्क्लेव केर चर्चा सँ हुनका लोकनिक प्रतिष्ठा आ राष्ट्रसेवा केर सेहो पूरा जानकारी हमरा-अहाँ केँ भेटत। हालहि प्रकाशित समाचार सँ बिहार राज्य मे निवेशक प्रोत्साहन लेल बनाओल गेल नीति मे ब्याज केर सब्सिडी सहित अन्य कर-छूटक सुविधा आ जमीन आदि उपलब्ध करेबाक राज्यक नीति आइ कतेक निवेशक केँ अपन क्षेत्र केर औद्योगिक दशा-दिशा बदलि सकल तेकर समीक्षा त हमरा लोकनि पिछला दुइ वर्ष मे बढल निवेशक अवस्था देखिकय कइये टा सकब, एहि कन्क्लेव सँ पिरिकिया, ठकुआ, भुसबा, सँ लैत मिथिलाक मौलिकता केँ उद्यमशीलता मे परिणति देबाक श्री पी. के. झा केर दूरदृष्टिता जमीन पर उतरय ताहि शुभकामनाक संग, सब कियो आइ मिथिला मिरर केर लाइव शो जरूर देखी। अस्तु।

हरिः हरः!!