नाटक लेखन सँ एनिमेशन फिल्म निर्माण धरि मैथिलीक स्टार युवा फिल्मकार अभिकाश झा

मैथिली एनिमेटेड फिल्म बनेनिहार युवा अभिकाश झा संग साक्षात्कार मैथिली जिन्दाबाद पर

विशिष्ट युवा प्रतिभा परिचयः मैथिली मे एनिमेशन फिल्म निर्माणकर्ता ‘अभिकाश झा’

हम मिथिला छी। हमर माटि-पानि-आवोहवा सब किछु सदैव किछु नव सृजनकर्म लेल प्रेरित करैत अछि। जाहि माटि सँ साक्षात् पराम्बा जानकी अवतार लेलनि, अवश्य ओकर सौभाग्यक सीमा नहि रहि गेल अछि। भाग्यशाली हमर समस्त संतान जेकर रोम-रोम मे ज्ञान अपन विभिन्न रूप मे छलकैत रहैत अछि। गोटेक-आधेक कोढि धियापुता केँ छोड़ि दी तऽ हमर कोखि सँ एकहु टा संतान एहेन नहि जन्म लेलक, लैत अछि वा भविष्यहु मे लेत जे अपन स्वाभिमान सँ अपन निजताक मान बढबैत मातृ-पितृ-गुरु-देव-पितर सभक ऋण नहि चुकबैत हो। हमर एहने एकटा सन्तानक नाम छी अभिकाश झा। नाम तऽ छियैक अभिनव कश्यप, मुदा ओ स्टाईल मे लिखैत अछि अभिकाश झा। एखन भारतक राजधानी दिल्ली मे रहिकय मैथ्स आ साईंस केर ट्युशन पढाकय अपनो हमर बच्चा उच्च अध्ययन कय रहल अछि। बहुत लुरिगर अछि। मैथिली फिल्म मे एनिमेशन क्षेत्र मे अत्यल्प काज होइत देखलक आर ओ ट्रेनिंग लय केँ प्रवेश कय गेल एहि क्षेत्र मे। ओकरा ई बात बुझल छैक जे मैथिली मे कार्य करनिहार लेल अनावश्यक प्रतिद्वंद्विता सेहो नहि छैक, जेहेन काज करब, सब एतुका जनमानस स्वीकार करत। अवसरे-अवसर सँ भरल अछि हमर भाषा, हमर मातृभूमि आ हमर स्वजन मैथिल सब जाति-धर्मक लोक। बड़ा कम उमेर छैक एखन, जस्ट १९ वर्ष, लेकिन बुद्धि आ ज्ञान एकरा मे हमर पहिलुका सक्षम आ होशियार ज्ञानी संतान याज्ञवल्क्य, गौतम, मंडन, वाचस्पति सँ ईहो कम नहि अछि। आइ अहाँ सब केँ अपन एहि नव विधा मे सृजनकर्म मे लागल बच्चा ‘अभिकाश’ केर परिचिति मैथिली जिन्दाबाद पर करा रहल छी।

मैथिली जिन्दाबादः अपन परिचय देल जाउ सबसँ पहिने।

अभिकाश – जी, हमर नाम अभिनव काश्यप झा, लिखैत छी अभिकाश झा। सम्प्रति दिल्ली मे रहि रहल छी एखन, एतहि मैथ्स-साईंस केर ट्युशन पढबैत छी आ अपनो अध्ययन अंग्रेजी विषय मे प्रतिष्ठाक संग स्नातकक पढाई पूरा कय केँ एखन एतहि दिल्ली सँ एनिमेशन फिल्ड मे आगाँ अध्ययन लेल प्रयासरत छी। संगहि एनिमेशन फिल्म निर्माण केर विभिन्न विधा मे नव-नव जानकारी हासिल करैत एकर समुचित प्रशिक्षण सेहो लेलहुँ अछि, आगुओ एकरा निरन्तरता दय रहल छी।

हमर गाम मधुबनी जिलाक रघुनी – देहट भेल जे मंगरौनी और बेल्हवार केर बीच मे अवस्थित छैक। प्रारंभिक शिक्षा-दीक्षा रिजनल सेकेन्ड्री स्कूल मधुबनी सँ कएने छी। हमर बाबूजी गामहि मे रहिकय किसानीक संग शिक्षाविद् केर रूप मे बरहा महाविद्यालय मे व्याख्याता पद पर कार्यरत छथि। माँ साधारण गृहिणी लेकिन हमरा लोकनि ३ भाइ-बहिन केँ पढाबय मे काफी बढि-चढिकय सहयोग कयनिहारि भेलीह। आगुओ एनिमेशन फील्ड मे किछु उल्लेख्य करबाक लेल माँ-बाबूजीक संग समस्त परिजनक सहयोग आ प्रोत्साहन भेटि रहल अछि।

मैथिली जिन्दाबादः बचपन सँ अपन कैरियर या रुचि पर विचार राखी। एतय धरिक यात्रा केना-केना भऽ सकल अछि?

अभिकाश – एक्टिंग आ नाटक लेखन मे काफी रुचि बनल। एनिमेशन मे मैथिली भाषाक कार्य हो से देखबाक जुनून सवार भेल।

मैथिली जिन्दाबादः केहेन छल शुरुआत आ कोन तरहक जुनून आयल? किछु विस्तार सँ बताउ पाठक लोकनि लेल। अहाँ सँ नव युवा कोना प्रेरित भऽ सकैत छथि? कि सब सीखि सकैत छथि?

अभिकाश – एक बेर हम हरिनगर गेल रही कंप्युटर केर क्लास करय, ओतय हमरा हर्षित आर्यन नामक एकटा शिक्षक भेटलाह। चूँकि हम पढाई मे मेधावी छलहुँ, टेस्ट्स मे नीक नंबर आनी, ताहि चलतबे हर्षित सर जे मधुबनी थियेटर केर डायरेक्टर सेहो छलथि हुनकर नजरि मे आबि गेलहुँ। क्लास खत्म भेलाक बाद ओ हमरा सँ भेटलथि आर पूछलनि जे अभिनव तुम एक्टिंग करोगे… हुनका हम हाँ करेंगे कहलियनि। तखन ओ हमरा इप्टा लय गेलाह जतय हम एकटा नाटक जे आरके कालेज मे होयबाक छलैक से करबेलहुँ। हर्षित सर काफी प्रभावित भेलाह, हमर नाटक केँ लोक सब खूब सराहना आ प्रशंसा कयलनि। तखन सर कहलनि जे हमलोग सोच रहे हैं कि ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के यूथ फेस्टिवल में एक मैथिली नाटक करना है जो तुम लिखोगे… हम कनेक हिचकिचेलहुँ मुदा सर फेर कहलनि जे हमको पता है कि यह काम तुमसे अच्छा दूसरा कोई नहीं कर सकता है। हम तखन उत्साहित भऽ कय ‘मिथिलाक ब्राह्मणभोज” नामक नाटक लिखलहुँ जे ताहि समयक मिथिला विश्वविद्यालयक कुल २६ प्रतिभागी महाविद्यालयक प्रस्तुति मे सर्वोत्कृष्ट हिट नाटक सिद्ध भेल। तेकर बाद हम नाटकक लाइन लगा देलियैक। हमर लिखल एखन धरिक सब सँ हिट नाटक ‘नवका पंडितक स्टाईल’ जे कि हमरा द्वारा संचालित यूट्युब ‘मिथिला ब्वाइज प्रोडक्सन’ केर चैनल पर उपलब्ध अछि। आगू जाकय एहि पर रंगा एन्टरटेन्मेन्ट कंपनी द्वारा एहि पर एकटा लघु फिल्म सेहो बनायल गेलैक जे हमरा चैनल पर उपलब्ध अछि। तेकरा बाद हम दुइ साल धरि एहि दिश कोनो खास ध्यान नहि देलियैक कारण कतहु सँ कोनो खास रिस्पौन्स नहि भेटल। २ साल धरि मात्र २०० सब्सक्राइबर छल, तेकर बाद हम सोचलहुँ जे कियैक न कार्टून बनाबी। बनेनाय शुरू केलहुँ, बनेलहुँ आ पोस्ट केलहुँ मुदा कोनो खास व्यु नहि छल। फेर एकटा कार्टून ‘इंटरव्यु’ अचानक सऽ हिट करय लागल। हालांकि ता धरि हम काफी हतोत्साहित सेहो भऽ गेल रही, घरक लोक सब सेहो मना करैत छलाह जे एहि ई सब काज जुनि करे, समय बर्बाद नहि करे, आदि… लेकिन इंटरव्यु केर हिट केलाक बाद हमरा काफी आत्मसंतोष भेटल, राहत भेल।

हमरा लेल यैह टर्निंग प्वाइन्ट सिद्ध भेल सेहो कहि सकैत छी। अन्दर धरि अपना केँ चिन्हबाक अवसर भेटल। अपना भीतर एकटकी लगाकय तकलहुँ आर अपन कलम केँ आरो बेसी धार देनाय आरम्भ केलहुँ, अपन मित्र सुदीप झा आर चंदन झा केर मदति सँ एक केर बाद एक हिट कार्टून (एनिमेशन) बनेलहुँ आर एतेक बेसी व्यु व सब्सक्राइबर भेटल जे देखिकय घरहु केर लोक हमर काजक समर्थन करय लगलाह। हमर माँ श्रीमती अनीता झा सदिखन हमरा प्रोत्साहित कयलीह। पिताजी डा. मोहर झा आर भाइ-चाचा सब कियो सपोर्ट कयलनि। ई सबटा भगवान् कृष्ण केर मदति सँ संभव भऽ सकल एना लगैत अछि। हम अपन दर्शक आ प्रशंसक प्रति काफी संतुष्ट छी, हुनका लोकनिक आभारी सेहो छी।

नव युवा तुर लेल हमर यैह सन्देश रहत जे अपन सीखल कला सँ, अपन दक्षता सँ आ अपन लगन सँ हमरा लोकनि जाहि कोनो फील्ड मे जाय, लेकिन ओहि मार्फत अपन मातृभूमि, मातृभाषा लेल निश्चित काज करी। ई याद रहय जे आन भाषा मे गलाकट प्रतिस्पर्धा छैक, सफलता-असफलताक भय छैक, लेकिन मैथिली मे अवसरे-अवसर, कियो टोकनिहारो नहि, जे करब से काजे जोगरक होयत आ लोक ओकरा प्रशंसा करबे टा करत। 

हमरा अहाँ वास्ते एनिमेशन फिल्म केर उपयोगिता, अभिकाश झा संग सम्पर्क करी

विदिते अछि जे एनिमेशन फिल्म मार्फत मिथिलाक विभिन्न विषय केँ उल्लेख्य आउडियेन्स धरि सहजहि पहुँचायल जा सकैत अछि, एहि मे विभिन्न संघ-संस्थाक सामाजिक हित केर कार्य हो, कोनो व्यवसायिक उत्पादनक विज्ञापन हो, किनको द्वारा लिखल गेल रचना केँ फिल्मांकन करबाक हो, एहि सब लेल अभिकाश झा केँ सम्पर्क कयल जा सकैत अछि। अभिकाश व्हाट्सअप पर उपलब्ध छथि – फेसबुक पर उपलब्ध छथि आर देल गेल लिंक यूट्युब पर सेहो उपलब्ध छथि। इच्छूक व्यक्ति हिनका सँ एहि नंबर पर जरूर सम्पर्क करी आ बड़ा सहज तथा सुलभ दाम पर अपन कृति केँ एनिमेशन फिल्म मे परिणति दी – +918051458768. 

मैथिली जिन्दाबाद केर संपादक प्रवीण नारायण चौधरी द्वारा फेसबुक-व्हाट्सअप पर अभिकाश झा केर सम्बन्ध मे देल गेल ई पोस्ट आ अभिकाश झा केर यूट्युब चैनल पर जरूर विजीट कय केँ एक सँ बढिकय एक कार्टून फिल्म केर आनन्द लय सकैत छीः

चिन्हू त हम के!!

हम अहाँक गामक युवा
मिथिला ब्वाइज संस्थापक छी,
एक सँ बढिकय एक हास्य पर
एनिमेशन फिल्म बनाबय छी!

‘के सार बनत करोड़पति’
‘भुस्कौलबाक बदला’
‘बपजेठ’
आदि एनिमेशन फिल्म
यूट्युब पर रिलीज अछि!

मिथिला ब्वाइज केर लिंक

https://www.youtube.com/channel/UCp-P-K9z8hbDMLAEHEPdBOw

पर जाउ
सब्सक्राइब करू
बेल पर क्लीक करू
नव-नव वीडियो पाउ
अपन मैथिली-मिथिला लेल
सब कियो अलख जगाउ
हमहुँ अपना स्तर सँ लागल छी।

– अभिकाश झा, मधुबनी, मिथिला (हाल दिल्ली मे अध्ययनरत)