नेपाल आ भारत मे मैथिली रंगकर्मक इतिहास बनेनिहार चतुर्भुज आशावादी केर समृति मधुबनी मे

मधुबनी, मार्च २५, २०१८. मैथिली जिन्दाबाद!!

भारतक मधुबनी मे चतुर्भुज आशावादी केर विशेष स्मृति समारोह
 
मधुबनीक वाटिका होटल सभागार मे २७ मार्च केँ अपराह्न १ बजे सँ संध्याकाल ६ बजे धरिक समय मे मैथिली भाषाक नेपाल-भारतक बीच सेतुक कार्य कयनिहार महान् संस्कृतिविद् (सांस्कृतिक राजदूत) चतुर्भुज आशावादीक स्मृति मे कवि गोष्ठी, नेपाली सिनेमा “कैली मैना” तथा मैथिली सांस्कृतिक कार्यक्रमक प्रस्तुति कयल जायत। नवारम्भ मधुबनी केर स्थानीय संयोजन मे आयोजित तथा बीपी कोईराला नेपाल-भारत फाउन्डेशन एवं भानु कला केन्द्र केर सहयोग मे होमय जा रहल अछि। नेपाल सँ भानु कला केन्द्र केर अध्यक्षा स्वयं स्व. आशावादीक धर्मपत्नी श्रीमती माया पौड़ेल एवं पुत्र प्रचण्ड पौड़ेल आशावादीक अलावे दर्जनों कलाकार लोकनि नेपाल सँ भाग लेबय पहुँचि रहल छथि।
 
एहि कार्यक्रम मे मैथिली रंगकर्म क्षेत्र मे शेक्सपियर उपनाम सँ विख्यात संगहि स्व. चतुर्भुज आशावादीक अन्तरंग मित्र श्री महेन्द्र मलंगिया केर उपस्थिति रहबाक निस्तुकी भऽ चुकल अछि। तहिना विशिष्ट अतिथिक रूप मे मिथिलाँचल चैम्बर अफ कामर्स केर अध्यक्ष श्री नवीन जायसवाल केर उपस्थिति एहि कार्यक्रमक महत्ता केँ बढायत। नेपालक राजधानी काठमांडू सँ कवियित्री तथा मैथिली भाषा व मिथिला संस्कृति केर संवर्धन एवं प्रवर्धन मे निरन्तर योगदान कयनिहाइर विभा झा केर अलावे अन्यान्य गणमान्य अतिथि लोकनिक अबाइ तय अछि। भारत विकास परिषद् केर अध्यक्ष श्री सुखदेव राउत, पिन्डारुच (दरभंगा) सँ श्री नवीन चौधरी, कवि लोकनि मे सतीश साजन, रामेश्वर निशांत, दिलीप कुमार झा, कृष्ण कांत मंडल, प्रणव नार्मदेय, दयाशंकर मिथिलांचली, बंसीधर मिश्र, मुन्नी मधु, गुफरान जिलानी, सुमित कुमार गुंजन, अबधेश झा तथा गोपीकांत झा संग आरो महत्वपूर्वण कवि, समाजसेवी, संस्कृतिविद्, शिक्षाविद् लोकनिक उपस्थिति रहत।
 
कार्यक्रमक स्थानीय संयोजन मे लागल नवारम्भ केर संचालक अजित आजाद जनतब देलनि अछि जे काल्हि मधुबनी जिलाधिकारी श्री शीर्षत कपिल अशोक सँ सेहो भेंट होयत जाहि मे हुनक सहभागिता लेल समय भेटबाक बात होयत। ओ कहलनि जे दुनू पारक बसल मिथिलाक बीच पारस्परिक प्रेम-सम्बन्ध अछि। बेटी-रोटीक सम्बन्ध त’ अछिये, साहित्यिक-सांस्कृतिक समन्वय सेहो अछि। अपन जीवनकाल मे नाट्य पुरुष चतुर्भुज आशावादी एहि सम्बन्ध-बंध केँ आरो व्यापक बनौलनि। हुनकहि सम्मान मे ई कार्यक्रम हुनक धर्मपत्नी आ पुत्रक उपस्थिति मे आयोजित होयत। एहि अवसर पर दुनू पारक कलाकार आ साहित्यकार सभक द्वारा गीत-संगीत, नृत्य, कविता आ फिल्म प्रदर्शित कएल जायत।