“आब नय रहलै वो गाम”

आब नै रहलै वो गाम,,,,, ना आब नै रहलै वो गाम.... आब नै रहल घैल घैलसार,, आब नै वो पाबैन तिहार.... आब ने कुम्हर फरय लेल चार,, आब...

लेखनी के धार प्रतियोगिता: पुरस्कृत लेख

समयानुसार परिवर्तन के साथ जे व्यक्ति चलैत अछि वो सुखी रहैत अछि । रीती -रिवाज कि धर्म के परिभाषा तक हर युग के अलग-अलग...

लेखनी के धार प्रतियोगिता: पुरस्कृत लेख

मिथिला में बहुत रास रीति-रिवाज होइ त अईछ जेना मुङन उपनयन और विवाह। मिथिलांचल में वैवाहिक रीति-रिवाज कनि अलग होइत अईछ। मैथिल दम्पति में...

अपराजिता फूल केर विशेषता

साभार रमण दत्त झा केर फेसबुक पोस्ट अपराजिता अपराजिता लता वाला पोधा अछि . एकर विशेष उपयोगिता दुर्गा देवी तथा माँ काली क पूजा मे उपयोग...

मैथिल ब्राह्मण आ विवाह

आलेख - कुमुद मोहन झा हिन्दू धर्ममे सोलह संस्कार अन्तर्गत विवाह एकटा एहेन संस्कार थीक जे वंश परम्परा के चलबैत छैक । एक पीढी सं दोसर...

चौरचन पाबनिक संछिप्त पूजन विधान (वैकल्पिक)

संकलनः साभार डी एन झा जी केर फेसबुक पोस्ट सँ चौठचन्द्र पूजनोत्सव के सभगोटे के मंगलमय हार्दिक शुभकामना... । पूजा के संक्षिप्त विधि ।। चतुर्थी चन्द्र...

चौरचन पाबनिक वैदिक पूजा विधान

मिथिला कर्मकांड - लोकपाबनि चौरचनक वैदिक पूजा विधान - डा. सुधानन्द झा (ज्योतिषीजी), ग्रामः राढ़ी, जिलाः दरभंगा केर हस्तलेख पर आधारित (संकलन - श्री शंकर सिंह...

मिथिला, मैथिली आ मैथिल केर पौराणिक परिचय

लेख - आध्यात्मिक अध्ययनक आधार पर मिथिलाक सम्पूर्ण परिचय - प्रवीण नारायण चौधरी अहो मित्र,   कि अहाँ ओहि मिथिला सँ छी जतय स्वयं जगदम्बा जानकी अवतार लेलनि?...

बेटीक जन्मे दान करय लेल होइत छैकः पिताम्वरी देवीक सुन्दर कथा

लेख - पिताम्वरी देवी कन्यादान "दीदी मां! दीदी मां! अहाँ केँ बड खिस्सा अबैत ये, हमरा एकटा खिस्सा कहु ने।" रेणू केर सात वर्षक भतीजी आँचर पकड़िकय...

कन्यादान आ मिथिलाः शोधमूलक लेख-संग्रह केर चारिम कड़ी

कन्यादान आ मिथिला   आशा करैत छी राखी नीक सँ मनेलहुँ, भाइ-बहिन बीच स्नेहबन्ध केर रक्षासूत्र बन्हबाक ई परम्परा सच मे मिथिलाक प्राचीन परम्परा सँ इतर...