“अगहन मासमे साक्षात अन्नपूर्णा खेत खरिहानमे बास करैत छथि

लेखनीकेँ धार - "अगहन मासमे साक्षात अन्नपूर्णा खेत खरिहानमे बास करैत छथि " हिंदू धर्म शास्त्रक अनुसार अगहन मास बड्ड पवित्र आ महत्वपूर्ण मानल जाइत...

चैनपुर-सहरसाक काली मन्दिर आर काली पूजाक प्रसिद्धि

संजय कुमार झा एवं राहुल बनगाँव - चैनपुर, सहरसा। अक्टुबर १२, २०१५. मैथिली जिन्दाबाद!! एहि तस्वीर मे चैनपुर (सहरसा) केर आदिकाली भवानीक मंदिर अछि। करीब २५०...

माघी सप्तमीके सूर्य जयंती कहल जैत अछि

  लेख प्रेषित : आभा झा लेखनीकेँ धार - माघी सप्तमीकेँ महत्व सृष्टिकेँ निर्माणक समय चारू दिशामे केवल अन्हार ही अन्हार छलैक, तखन नव ग्रहक राजा सूर्य अपन...

संतानकें दीर्घायु हेबाक लेल कैल जाइत अछि इ व्रत

एकटा मिथिलामे बड्ड प्रख्यात कहबी छै जे:- जितिया पावनि बड्ड भारी धिया पुताकेँ ठोकी सुतेलनि अपने खेलनि भरि थारी जितिया पावनि बड्ड भारी मुदा ई कहबीटा नञि अछि। राइतमे...

पुजू विचित्र देहधारी विघ्नहर्ता मंगलकर्ता गणेश

" मिथिलामे गणेश भगवानकेँ पूजा आ महत्व " हिंदू धर्म आ पूजामे भगवान श्रीगणेशकेँ प्रथम पूजनीय मानल गेल अछि। भगवान गणेश, मनुष्यकेँ कष्ट हरि लैत...

अहि अगहन मास मे सतयुग के आरम्भ भेल अछि

अगहन मास मे खेत खलिहान मे मा अन्नपूर्णा के निबास 🙏कातिॅक मास क पूर्णिमा के बाद बला मास अगहन मास प्रारंभ भ जायत अछि,...

ई १६ चक्रवर्ती राजा छथि भारतवर्षक निर्माता – भाग ३

संकलन: अनिरुद्ध जोशी 'शतायु' अनुवाद: प्रवीण नारायण चौधरी (एहि सँ पूर्व २ टा आलेख प्रकाशित कैल जा चुकल अछि, मैथिली जिन्दाबाद केर आर्काइव - पुरान पोस्ट्स...

तीन बात

प्रत्येक मनुष्य लेल निम्न तीन बात विचारपूर्वक करबाक चाही। १. शरीरक तप: देवद्विजगुरुप्राज्ञपूजनं शौचमार्जवम्। ब्रह्मचर्यमहिंसा च शारीरं तप उच्यते॥ देवता, द्विज (ब्राह्मण व जीवन...

मिथिलाक नव दम्पत्ति अर्थात बियाहल वरक लेल खास महत्व राखै वाला सुख-समृद्धिक लोकपर्व कोजगरा

मिथिलाक प्रकृति सँ जुड़ल कोजगरा पाबनि शारदीय नवरात्रक समाप्तिकेँ बाद मिथिलाक नव दम्पत्ति अर्थात बियाहल वरक लेल खास महत्व राखै वाला सुख-समृद्धिक लोकपर्व कोजगरा...

आसिन पुनीतक मास शुक्लपक्ष मे दुर्गा मय भ जैत अछि मिथिलाधाम

तृषित धरा जेना हरियेली, कियैक त' आबिगेल आसिन पावन पुनीत मास। माँ भगवतीकेँ आगमनक महीना।पुनीत भादवक पूर्णिमा के संग शुरू होइत अछि आसिन मास आ...