नब पात नब फूल गूंजय कोइलीक कूक वसंत जौं आयल रे

लेख प्रेषित : आभा झा लेखनीकेँ धार - " वसंत ॠतुमे प्रकृति अपन सुन्नरताक  छटा चहूँदिस पसारैत अछि "- प्रकृति आ मानवक संबंध आदिकाल सँ रहल अछि। प्रारंभमे सभ...

वसंत मे बुझना जाइत अछि जेना स्वर्णिम आभा छिटैल हुए

लेख प्रेषित : नीलम झा ‘निवेधा’ #लेखनीक_धार विषय:- "वसंत ऋतुमे प्रकृति अपन सुन्नरताक चहुंदिस पसारैत अछि"। जखन सूर्यदेव उत्तरायण होइत छथि तऽ धीरे-धीरे जाड़ कम होमय लगैत अछि...

मज्जरक सुगंध सओं सुवासित मधुमय वसंत पसरल

लेख प्रेषित : इला झा लेखनीक धार "बंसत ऋतुमे प्रकृति अपन सुन्नरता  चहुं दिस पसारैत अछि बसंत केँ श्रेष्ठ ऋतु मानल गेल अछि। ऋतुराज आओर मधुमासक सेहो उपाधि...

तीन गुणक मात्रा सात संख्या मे निहित अछि अचला माघी सप्तमी

लेख प्रेषित : ऋषभ कुमार झा माघ मास के शुक्ल पक्ष के सप्तमी दिन रथ सप्तमी व्रत मनाओल जाइत अछि | सब संख्या मे सात नंबर...

माघी सप्तमी के अनुना करबाक विधान अछि

लेख प्रेषित : सुनीता झा माघी सप्तमीक महत्व माघी सप्तमी कही वा अचला सप्तमी दुनू नाम एहि दिनक कहल जाइत अछि। वैदिक काललहिसं जाहि प्रदेशक प्रतिष्ठा,ब्रम्हग्यानक केन्द्रक रूपमे...

माघी सप्तमी केला सओं शरीर आरोग्य होइ छै

लेख प्रेषित :राजन कुमारी विषय -माघ सप्तमी के महत्व माघ मासक सप्तमी तिथि के विशेष महत्व मानल गेल अछि।ओना ते अपन मिथिला में विशेष आ श्रद्धा पूर्वक...

माघी सप्तमीके सूर्य जयंती कहल जैत अछि

  लेख प्रेषित : आभा झा लेखनीकेँ धार - माघी सप्तमीकेँ महत्व सृष्टिकेँ निर्माणक समय चारू दिशामे केवल अन्हार ही अन्हार छलैक, तखन नव ग्रहक राजा सूर्य अपन...

शाश्वत मिथिला अहमदाबादक मिथिला भवन

यात्रा संस्मरण मिथिला भवन शाश्वत मिथिला अहमदाबाद द्वारा निर्माणाधीन 'मिथिला भवन' डाभोरा (गांधीनगर, अहमदाबाद) आर ई शेल्फी आदरणीय राजकिशोर बाबू संग - हृदय मे एतबा हर्ष समाहित...

मिथिलाभाषा रामायण – अयोध्याकाण्ड तेसर अध्याय

कविचन्द्र विरचित मिथिलाभाषा रामायण अयोध्याकाण्ड - तेसर अध्याय ॥अध्याय ३॥ ।चौपाइ। ।मिथिला संगीतानुसारेण श्रीमालव छन्द। काज मन्त्रि केँ कहि नृप देल। अपनैँ अन्तष्पुर मे गेल॥ नृपति न देखल केकयि आँखि।...

अहि माघक चतुर्दशी के पार्वतिक विवाह प्रस्तावित भेल छल

लेख प्रेषित : रिंकु झा लेखनी के धार शीर्षक -नरक निवारण चतुर्दशी व्रत के उत्साह मे पहिले आर आबक समय में अंतर******** ********* पावैन -तिहार कोनो भी क्षेत्र वा...