मिथिलाक सुप्रसिद्ध पर्यटन स्थल: गिरिजास्थान, फूलहर, मधुबनी

जनकपुर सँ सटले मधुबनी जिलाक अत्यन्त प्रसिद्ध पर्यटन स्थल - गिरिजास्थान, एतय जानकी जी नित्य फूल लोढय आ गौरी पूजा हेतु संगी-सहेलीक संग अबैत...

ताजमहल आ अन्य भारतीय विश्व धरोहर

विश्व विरासत स्थल अथवा विश्व धरोहर एहेन ख़ास स्थान, वन क्षेत्र, पर्वत, झील, मरुस्थल, स्मारक, भवन या शहर इत्यादि केँ कहल जाइत छैक, जे 'विश्व...

महिषी मे संपन्न भेल बाल रंग शिविर

अमित आनन्द, महिषी। जुन ८, २०१५. मैथिली जिन्दाबाद!! महिषीक एडीपीजे उच्च विद्यालयक प्रांगण मे भारत सरकार अन्तर्गत कार्यरत पूर्वी क्षेत्रीय सांस्कृतिक केन्द्र, कोलकाता तथा महिसी...

सुन्दर गाम: बनगाँव

सौजन्य: जय हो बन्गाम, बनगाँव, सहरसा। मई १८, २०१५. मैथिली जिन्दाबाद!! "स्वर्ग केर प्राचीनतम गाम मे एक - बनगाँव केर संक्षिप्त विवरण" मिथिलाक सहरसा जिला मे...

Ramleela of Mithila: A Forgotten Tradition of Folk Theatre

- Dr. Kailash Kumar Mishra Introduction: The two great epics: Ramayana and Mahabharata from time immemorial have been influencing every sphere of life and culture in...

Vishwa Dharohar Diwas: Mandan Dham, Mahishi

सुभाषचंद्र झा, मंडनधाम, महिषी, सहरसा। मैथिली जिन्दाबाद - मार्च १८, २०१५. मंडन धाम (महिषी) मे विश्व धरोहर दिवस मनाआेल गेल। पुरातत्त्व विभाग व ग्रामीण सबहक...

सलहेशक फूलबाड़ी मे फूलायल अनुपम फूल

- सुनील गुप्ता, सिरहा। मार्च १५, २०१५. मैथिली जिन्दाबाद। मिथिलाक लोकराजा - लोकदेवता आ महावीर-पराक्रमी सलहेश आ हुनक प्रेमिका कुसुमाक संग प्रेमगाथाक जीवन्त गान करयवला अनुपम...

तीन बात

प्रत्येक मनुष्य लेल निम्न तीन बात विचारपूर्वक करबाक चाही। १. शरीरक तप: देवद्विजगुरुप्राज्ञपूजनं शौचमार्जवम्। ब्रह्मचर्यमहिंसा च शारीरं तप उच्यते॥ देवता, द्विज (ब्राह्मण व जीवन...

श्री महागणेशपञ्चरत्नस्तोत्रम् (श्रीशङ्कराचार्यकृतम्)

मुदाकराक्त मोदकं सदा विमुक्तिसाधकम्। कलाधरावतंसकं विलासि लोकरक्षकम्॥ अनायकैक नायकं विनाशितेभदैत्यकम्। नताशुभाशुनाशकं नमामि तं विनायकम्॥१॥ नतेतरातिभीकरं नवोदितार्कभास्वरम्। नमत्सुरारि निर्जरं नताधिकापदुद्धरम्॥ सुरेश्वरं निधीश्वरं गजेश्वरं गणेश्वरम्। महेश्वरं...