Ke Likhat Naatak – Pradeep Bihari

आलेख: के लिखत नाटक? - प्रदीप बिहारी मैथिलिए नहि भारतक आन-आन भाषा सभमे सेहो मौलिक नाटक लिखनिहार बड़ थोड़ अछि। एखनहुँ साहित्यक आन विधाक अपेक्षा नाटक लिखनिहारक...

Saras Maithili Book: Dhari Prashna E Uthaiya

मैथिली पोथी सियाराम झा सरसक कविता: धरि प्रश्न ई उठैए ई नव प्रस्तुति झारखंड मिथिला मंच द्वारा प्रकाशित आदरणीय सरस केर गोल्डेन जुबिली मैथिली सेवावर्ष यानि...

Maithili Jindabaad Kona

मैथिली हरदम जिंदाबाद अछि आ रहबो करत पंकज कुमार झा, मैथिली जिंदाबाद ई शब्द केँ अगर हम शास्वत आ सनातन कही तँ कोनो अतिश्योक्ति नहि होयत....

छठि मैया आ डूबैत-उगैत सूरुजके पूजा

छैठ परमेश्वरी के पूजा समस्त मिथिलावासी लेल अति प्राचिन पारंपरिक पूजन समारोह थीक। सामूहिक रूपमें बेसीतर महिला लेकिन गोटेक पुरुष व्रतधारी सभ संग अनेको...

चुगला (गीत नाटिका)

चुगला चुगलखोरी करनिहारके कहल जाइत छैक। मिथिलामें मैथिल सभक एक महत्त्वपूर्ण पावैन सामा-चकेवा में चुगला-दहन के गाथा छैक। चलू यैह बहाना हम किछु संस्मरण...

तीन बात

प्रत्येक मनुष्य लेल निम्न तीन बात विचारपूर्वक करबाक चाही। १. शरीरक तप: देवद्विजगुरुप्राज्ञपूजनं शौचमार्जवम्। ब्रह्मचर्यमहिंसा च शारीरं तप उच्यते॥ देवता, द्विज (ब्राह्मण व जीवन...

श्री महागणेशपञ्चरत्नस्तोत्रम् (श्रीशङ्कराचार्यकृतम्)

मुदाकराक्त मोदकं सदा विमुक्तिसाधकम्। कलाधरावतंसकं विलासि लोकरक्षकम्॥ अनायकैक नायकं विनाशितेभदैत्यकम्। नताशुभाशुनाशकं नमामि तं विनायकम्॥१॥ नतेतरातिभीकरं नवोदितार्कभास्वरम्। नमत्सुरारि निर्जरं नताधिकापदुद्धरम्॥ सुरेश्वरं निधीश्वरं गजेश्वरं गणेश्वरम्। महेश्वरं...

दहेज मुक्त मिथिलाक बढैत डेग

वैद्य ओ पी महतो, दरभंगा। मैथिली जिन्दाबाद, २२ मार्च, २०१५। बिठौली गामक बाबा महेश्वरनाथ मंदिर पर दहेज मुक्त मिथिला द्वारा आयोजित जन सम्पर्क कार्यक्रमक एक...