“हमर राम”

-- रुबी झा।                                    एकटा विद्वान कवि कहने...

“चेतनाक सजीव नाम : राम”

-- भावेश चौधरी।                          "गुणा, गुणज्ञेषु, गुणा भवंति"- पूजनीय और आदर्श होई लेल...

“नवान्न : मिथिलांचलक सबसँ पैघ पाबनि”

- आभा झा।                                मिथिलांचलक लोक पर्व लबान जकरा नवान्न...

“गभासंक्रान्ति के सन्दर्भमें रेखा झाकेँ लिखल महत्वपूर्ण जानकारी दैत इ लेख”

- रेखा झा।                  #गभासंक्रांति संक्राति के अपन मिथिला के पंचांगमें बहुत महत्व अछि। कोनो पाबनि आ मास...

मातृभाषाक महत्व

अपन मातृभाषा केर महत्व की?   मातृभाषा पर बहुत रास लेख अछि। हमर आग्रह जे एक बेर आर्ट अफ लिविंग श्री-श्री रविशंकर संग वार्ता पर आधारित...

“खोंइछ भरबाक धार्मिक महत्व”

- विवेकी झा।                  "खोइंछ" ई नाम लैते देरी अपन अर्थक बोध अपने आप निकैल क सामने...

“मिथिलामें बेटी-पुतौह के खोंइछ द’ विदा करबाक महत्व”

- रेखा झा।                      "खोंईछ भरब" खोंईछ शब्द के मतलब भेल साड़ी के आंचल, मिथिलांचल मे अहि...

“खोंइछ भरबाक विधि और अहि केर महत्त्व पर जानकारी दैत इ लेख”

- आभा झा।                              दुर्गा पूजाक अवसर पर दुर्गा माँ के...

दहेज मुक्त मिथिला पूजा मिलन समारोह मधुबनीक सम्पूर्ण प्रतिवेदन (रिपोर्ट)

मधुबनी मे मिलन समारोह - कि सब उपलब्धि भेटल   दहेज मुक्त मिथिला पूजा मिलन समारोह पूर्व निर्धारित स्मारिका विमोचन तिथि अर्थात् १६ अक्टूबर २०२१ केँ...

मैथिली भाषा लेल चिन्ता आ चिन्तन – भाषिक एकरूपता कोना बनत

मैथिली लेखन मे एकरूपताक अभाव कोना दूर हो?     भाषा-विमर्श मे अक्सरहाँ ई चर्चा कयल जाइत अछि जे मैथिलीक कतेको रास शब्द अलग-अलग लेखक द्वारा अलग-अलग...