सुरुजक छाहरि मे (मैथिली पोथी: कविता संग्रह): लेखक मनोज शाण्डिल्य

उलहन   - मनोज शाण्डिल्य   धुर केहन बड़द सन मनसा हमरा देलें ताकि गे नहि बाजै छै अप्पन भासा जीह गेल छै पाकि गे..........   ढउआ कैंचा हम की करबै हमरा लेल बलाय...

राजकमल चौधरी रचनावली केर दिल्ली मे होयत विमोचन

किसलय कृष्ण, सहरसा। जुन १४, २०१५. मैथिली जिन्दाबाद!! मैथिली तथा हिन्दीक सुप्रसिद्ध साहित्यकार स्व. राजकमल चौधरीक ४९म पुण्यतिथि एहि बेर पहिने सँ बेसी भव्यताक संग...

हे गै दिलतोड़िया दिल हमर किऐ तोड़लें गैः कमल महतोक गीत

गीतकार-गजलकारः कमल महतो, जनकपुर गजल   किए गेलौ पिया सात समुन्द्र पार यौ। अाइब जाउ पिया छोड़िकऽ कतार यौ॥   सुनसान लगैअ घर अाँगन अा दलान यौ। निक न लगैयऽ करैत...

नेपाली मिथिलाः विकीपिडिया

Mithila (Nepali मिथिला Tirhuta মিথিলা ), or the eastern Terai of Nepal, is a historical region of the Federal Democratic Republic of Nepal. The...

“अपन गामक पोखरि”

संतोष कुमार झा।                          पोखैर दादा परदादा के धरोहर जे अपन अंतिम सांस...

प्रेम सँ विवाह धरि – मिथिलाक प्रेम गाथा

प्रेम सँ विवाह धरि - प्रवीण नारायण चौधरी   हाई स्कूल मे जाइते देरी प्रेम केकरा कहल जाएछ से बुझि गेल छल तिरपित। संगतो तेहने-तेहने आर दीदीक...

मिथिलाक इतिहासः डा. उपेन्द्र ठाकुर (धारावाहिक लेख)

मिथिलाः उत्पत्ति एवं नाम   - डा. उपेन्द्र ठाकुर (प्रसिद्ध इतिहासकार)   प्राचीन भारतक राजनीतिक तथा सांस्कृतिक जीवनमे मिथिलाक महत्त्वपूर्ण भूमिका रहलैक अछि। ई भूमि महान् राजतन्त्र तथा...

भूषणक घर उपास

लघुकथा - रूबी झा भूषण के घर में आय चारि दिन स चूल्हा में आँच नै पड़लैन । घर में एको कनमा अन्न नै छलैन ।...

मैथिली आन्दोलन पर आधारित महत्वपूर्ण शोधपत्र

डा. अजय कुमार सिंह - शोधकर्ता आ डा. एस. एन. झा सुपरवाइजर - जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय मे १९९३ ई. मे जमा कयल गेल ई...

मिथिलाक भोज आ बारीकक महत्व

लेख - वाणी भारद्वाज भोज मे बारीकक महत्व समाजक बदलैत स्वरूप मे सबकिछु बदलैत जा रहल अछि. ताहि क्रम मे भोज-भातक आ बारीक मे सेहो बदलाव अवश्यमभावी...