मूर्ति सज्जाक संग इन्टेरियर डेकोरेशनमे मिथिला पेन्टिंगक प्रयोग

विशिष्ट व्यक्तित्व परिचयः प्रभाकर झा, मिथिला चित्रकार, जितवारपुर, मधुबनी सर्वविदिते अछि जे मिथिला पेन्टिंग आब वर-कनियांक कोहबर घर आ लोकक घरक भीत पर सँ निकैलकय...

मैथिली मिडियामे क्रान्तिः आबि रहल अछि ‘जेएम न्युज’ चैनेल

  दिल्ली। जनबरी २०, २०१६. मैथिली जिन्दाबाद!! पी७ चैनेल केर पूर्व प्रोग्राम डायरेक्टर अनुप कुमार कर्ण द्वारा मैथिली मिडिया क्षेत्र मे नव युगक आरम्भ करबाक निर्णय...

खादी ग्रामोद्योग भवनक वर्षगाँठः मैथिली पोथी सेहो भेटत एतय

दरभंगा, दिसम्बर २९, २०१५. मैथिली जिन्दाबाद!! सूक्ष्म एवं लघु उद्योग मंत्रालयक पहल पर दरभंगा मे खादी ग्रामोद्योग भवन केर निर्माण संपन्न भेल जेकर पहिल वर्षगाँठ...

मैथिली टीवी सिरियल ‘मेड इन मिथिला’ – पर्यटन प्रवर्धन

विमलजी मिश्र, नई दिल्ली। दिसम्बर १, २०१५. मैथिली जिन्दाबाद!! मिथिलाक पौराणिक-ऐतिहासिक कथा-गाथा-तीर्थ केर प्रवर्धनः मिथिला क्षेत्र मे पर्यटन प्रवर्धन मे होयत सहायक देश मे राष्ट्रीय जनतांत्रिक...

शुरु भेल एकटा आरो नव पहलः अनलाइन मिथिला मार्ट

दिल्ली, अक्टुबर १२, २०१५. मैथिली जिन्दाबाद!! मैथिली ओ मिथिला प्रति केन्द्रित विभिन्न नया-नया उपक्रम केर दौड़ निरंतर बनल अछि। एकटा आरो नव पहल केर समाचार...

मिथिला लेल के कि केलक: आर्थिक पिछड़ापण केर जिम्मेवार के?

आलेख - प्रकाश कमती बिहार सरकार होइ या केंद्र सरकार आय धैर ई दुनु के सौतेला व्यवहार आ राजनितिक षड्यंत्रक प्रभाव सँ मिथिला केर दयनीय स्थिति रहल...

मिथिलाक सरोकार आर विभिन्न विकास केर मुद्दा: बाढिक समस्या – जलव्यवस्थापन मे कमजोरी

कृपानन्द झा, दिल्ली। सितम्बर २६, २०१५. मैथिली जिन्दाबाद!! भारत स्वतंत्र भेना लगभग ७ दसक बितय लेल जा रहल अछि, मुदा मिथिलाक आर्थिक अवस्था दिन-दिन दयनीय...

विदेश मे रोजगार चाही तऽ सम्पर्क करू: मिथिला एकता समाज सउदी अरब

रियाध, सउदी अरब। सितम्बर १५, २०१५. मैथिली जिन्दाबाद!! मिथिला एकता समाज सउदी अपन निरंतर चिन्तन एवं कार्यक्रम सँ मिथिला समाज सहित समस्त नेपाली मानव समुदाय...

नेपालक अर्थतंत्र मे प्रवासी कमौआ पुतक योगदान

विदेशी मुद्राक आर्जन मे प्रवासी कमौआ पुतक योगदान!! पहिल बेर जखन पिताक आँखि सँ दूर परदेश जयबाक बेर आयल तैयो पिता येन-केन-प्रकारेन बाहर नहि जाय...

मिथिला आ मैथिलीक ‘ब्राण्डिंग’

मिथिला ब्राण्ड - मैथिली ब्राण्ड पता अछि मिथिलाक समृद्धि कतेक छैक आइयो? आत्मनिर्भरता हर तरहें मानव-जीवन लेल मिथिलाक भीतर सभ तरहें उपलब्ध छैक। बस एक...